एक बार उसने कहा था,मेरे सिवा किसी से प्यार ना करना,बस फिर क्या था,तबसे मोहब्बत की नजर से हमने खुद को भी नहीं देखा.

बहते अश्कों की ज़ुबान नहीं होती;लफ़्ज़ों में मोहब्बत बयां नही होती;मिले जो प्यार तो कदर करना;किस्मत हर कीसी पर मेहरबां नहीं होती।


प्यार वो है जिसमे सच्चाई हो;साथी की हर बात का एहसास हो;उसकी हर अदा पर नाज़ हो;दूर रह कर भी पास होने का एहसास हो।

दिल की किताब में गुलाब उनका था;रात की नींदों में ख्वाब उनका था;कितना प्यार करते हो जब हमने पूछा;मर जायेंगे तुम्हारे बिना यह जवाब उनका था।


अपने हसीन होंठों को किसी परदे में छुपा लिया करो,हम गुस्ताख लोग हैं नज़रों से चूम लिया करते हैं…!

बेताब तमन्नाओ की कसक रहने दो!मंजिल को पाने की कसक रहने दो!आप चाहे रहो नज़रों से दूर!पर मेरी आँखों में अपनी एक झलक रहने दो!

आँखों में आंसुओं की लकीर बन गई;जैसी चाहिए थी वैसी तकदीर बन गई;हमने तो सिर्फ रेत में उंगलियाँ घुमाई थी;गौर से देखा तो आपकी तस्वीर बन गई।

उसने पूछा,,,,मोहब्बत💝 की कशमकश क्या हैं;मैंने कहा,,,,बाहों में समंदर 🦋और रूह प्यासी…!!

नींद पूरी लिया कीजिये, आधी 🙄आँखों में हम नहीं समाने वाले…!!😜मिलना है तो रूबरू 🥰होइए , यूँ ख्वाबों में हम नहीं आने वाले….!!

Hindi Shayari

मेरी मौत से किसी को 😔फरक पड़े या ना पड़ें …💔मेरी तन्हाई जरुर रोयेगी😭 के मेरा हमसफर चला गया…💔

ऐसे ही और शायरी पढ़ने के लिए नीचे दबाये

एक बार उसने कहा था,मेरे सिवा किसी से प्यार ना करना,बस फिर क्या था,तबसे मोहब्बत की नजर से हमने खुद को भी नहीं देखा.